जगदीश एन. भगवती

Jagdish Bhagwati Biography in Hindi
जगदीश एन. भगवती
स्रोत: en.wikipedia.org

जन्म: जुलाई 26, 1934, मुंबई

कार्यक्षेत्र: अर्थशाष्त्री, प्राध्यापक, अंतर्राष्ट्रीय व्यापार

शिक्षण संस्थान: बॉम्बे विश्वविद्यालय, कैंब्रिज विश्वविद्यालय, मेसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी

जगदीश नटवरलाल भगवती एक प्रसिद्द भारतीय-अमेरिकी अर्थशास्त्री हैं और वर्तमान में कोलम्बिया विश्वविद्यालय में अर्थशास्त्र और कानून के प्रोफ़ेसर हैं। प्रोफेसर भगवती को अंतर्राष्ट्रीय व्यापार में उनके महत्वपूर्ण शोधों के लिए और मुक्त व्यापार के समर्थक के रूप में जाना जाता है।

Story of Bhagat Singh

प्रारंभिक जीवन

जगदीश नटवरलाल भगवती का जन्म 26 जुलाई 1934 में बॉम्बे में एक गुजराती परिवार में हुआ था। उन्होंने सिडेनहेम कॉलेज (मुंबई) से स्नातक की उपाधि प्राप्त की। इसके पश्चात वे अर्थशास्त्र में दो साल का बीए (BA) का कोर्स करने के लिए कैम्ब्रिज चले गए। उन्होंने कैम्ब्रिज के सेंट जोन्स कॉलेज में दाखिला लिया और सन 1956 में अर्थशाष्त्र विषय में बीए की डिग्री प्राप्त की।

इसके बाद भगवती अमेरिका के मेसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी चले गए जहाँ से सन 1961 में उन्होंने अर्थशाष्त्र में पी.एच.डी (शोध) किया। उनके शोध का विषय था ‘एसेज इन इंटरनेशनल इकोनॉमिक्स’। उन्होंने अपना शोध चार्ल्स पी. किनडलबर्गर के देख-रेख में किया।

जगदीश नटवरलाल भगवती भारत के पूर्व मुख्य नयायाधीश पी.एन. भगवती और जाने-माने न्यूरोसर्जन एस.एन. भगवती के भाई हैं।

करियर

मेसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से पी.एच.डी (शोध) करने के बाद जगदीश भगवती सन 1961 में भारत लौट आये और कुछ समय के लिए कोलकाता स्थित ‘भारतीय सांख्यिकी संस्थान’ में अध्यापन कार्य किया। इसके पश्चात सन 1962 में वे डेल्ही स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स (डी.एस.इ.) में अंतर्राष्ट्रीय व्यापार के प्रोफेसर नियुक्त हो गए और सन 1968 तक यहाँ पर अध्यापन कार्य किया।    अमर्त्य सेन और भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, डेल्ही स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स में उनके समकालीन थे। सन 1968 में प्रोफेसर भगवती मेसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी चले गए जहाँ उन्होंने सन 1980 तक अर्थशाष्त्र के प्रोफेसर के तौर पर अध्यापन कार्य किया।

वर्तमान में भगवती ‘ह्यूमन राइट्स वाच’ (एशिया) के शैक्षिक सलाहकार बोर्ड और ‘सेण्टर फॉर सिविल सोसाइटी’ के बोर्ड ऑफ़ स्कोलर्स’ पर हैं। वे ‘कौंसिल ऑन फॉरेन रिलेसंस’ में वरिष्ठ फेलो भी हैं। जगदीश भगवती ने पूर्व में विश्व व्यापार संगठन के महानिदेशक के बाह्य सलाहकार के तौर पर कार्य किया है। उन्होंने सन 2000 में ‘वैश्वीकरण’ के मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र के विशेष निति सलाहकार और सन 1991 से लेकर सन 1993 तक ‘जनरल अग्रीमेंट ऑन टैरिफ एंड ट्रेड’ के महानिदेशक के आर्थिक निति सलाहकार के तौर पर कार्य किया।

सन 2000 में, भगवती ने संयुक्त राज्य अमेरिका के सुप्रीम कोर्ट के साथ, अमेरिकन एंटरप्राइज इंस्टीट्यूट के द्वारा संयोजित, एक सौहार्दपूर्ण ब्रीफिंग पर हस्ताक्षर किए, जिसका इस बात पर ज़ोर था कि पूर्व नियमों के विपरीत, पर्यावरण संरक्षण एजेंसीओं को पर्यावरणीय मानकों की स्थापना करते वक्त विनियमनों की लागत को ध्यान में रखना चाहिए।

जनवरी 2004 में प्रोफेसर जगदीश भगवती ने एक पुस्तक ‘इन डिफेन्स ऑफ़ ग्लोबलाइजेशन’ प्रकाशित की, जिसमें वे कहते हैं “ग्लोबलाइजेशन या वैश्वीकरण का एक मानव-चेहरा है, परन्तु हमें इस चेहरे को अधिक स्वीकार्य बनाने की आवश्यकता है।”

सन 2004 में, जगदीश भगवती उन विशेषज्ञों में शामिल थे जिन्होंने कोपेनहेगन सहमति परियोजना में हिस्सा लिया था।

सन 2006 में वे उस प्रख्यात व्यक्तियों के समूह के एक सदस्य थे, जिसने यूएनसीटीएडी (UNCTAD) के कार्य की समीक्षा की। सन 2010 के प्रारंभ में वे प्रवासी अधिकारों के इंस्टीट्यूट, (सिअंजुर-इंडोनेशिया) के सलाहकार बोर्ड में शामिल हो गए।

प्रोफेसर जगदीश भगवती वर्तमान में अमेरिका के कोलम्बिया विश्वविद्यालय में अर्थशास्त्र और कानून के प्रोफ़ेसर हैं।

व्यक्तिगत जीवन

जगदीश भगवती कोलंबिया विश्वविद्यालय के प्रोफेसर पद्मा देसाई से विवाहित हैं। भगवती दंपत्ति की एक पुत्री है जिसका नाम अनुराधा क्रिस्टीना है।

सम्मान और पुरस्कार

  • सन 1974 में इंडियन इकोनोमेट्रिक सोसाइटी ने उन्हें ‘महलानोबिस मेमोरियल मैडल’ से सम्मानित किया
  • सन 1982 में उन्हें ‘अमेरिकन अकैडमी ऑफ़ आर्ट्स एंड साइंसेज’ का फेलो चुना गया
  • सन 1998 में उन्हें ‘सिडमैन डिसटिनगुइशड अवार्ड इन इंटरनेशनल पोलिटिकल इकॉनमी’ दिया गया
  • भारत सरकार ने सन 2000 में उन्हें ‘पद्म विभूषण’ से सम्मानित किया
  • सन 2004 में इंडियन चैम्बर्स ऑफ़ कॉमर्स ने ‘लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड’ से सम्मानित किया
  • सन 2006 में उन्हें जापान का प्रतिष्ठित ‘आर्डर ऑफ़ द राइजिंग सन’ दिया गया
  • बेर्न्हार्ड हार्म्स प्राइज
  • अमेरिका का कीनन एंटरप्राइज अवार्ड
  • स्विट्ज़रलैंड का ‘द फ्रीडम प्राइज’
  • अमेरिका का ‘जॉन आर. कॉमन्स पुरस्कार
  • ससेक्स और इरेस्मस विश्वविद्यालय द्वारा मानद डिग्री प्रदत्त की गई

टाइम लाइन (जीवन घटनाक्रम)

1934: मुंबई शहर में जन्म हुआ

1956: कैंब्रिज के सेंट जोंस कॉलेज से डिग्री अर्जित की

1961: मेसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से पी.एच.डी (शोध) करने के बाद भारत वापस लौट गए

1962-68: डेल्ही स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स में अध्यापन कार्य किया

1968: मेसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी में अर्थशाष्त्र के प्रोफेसर नियुक्त हुए

2000: भारत सरकार ने पद्म विभूषण से सम्मानित किया

Оформить и получить займ на карту мгновенно круглосуточно в Москве на любые нужды в день обращения. Взять мгновенный кредит онлайн на карту в банке без отказа через интернет круглосуточно.